दोस्ती खूबसूरत एहसास है ,

दोस्तों के बिना ज़िन्दगी विरान है ।।

सारी खुशियां तुझसे है , मेरे दोस्त

तू ही तो मेरी पहचान है ।।

बंधे है हम रिश्तों के नाजुक डोर से ,

साथ ना छोड़ना तुम किसी भी मोड़ पे।।

शुक्रगुजार हूं मै , खुदा का

बेहतरीन दोस्तों से मुझे नवाजा ।।

दोस्ती तुम्हारी अनमोल है ,

जिसका कोई मोल नहीं ।।

  • तुम सब वो नूर हो ,

जो कोहिनूर से कम नहीं ।।

 

 

 

 

 

 


Subscribe this author


+1
SAHU
Simran

By

अंधेरे में अकेले ही अपने कदमों को आगे बढ़ाना पड़ता है....वरना उजाले का क्या है इसमें सैकड़ों आ जाते है हाथ थामने के लिए ।।

One thought on “दोस्ती”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

 
       
About US | Contact US | Disclaimer | Terms of Service  | Privacy Policy | Sitemap | Forum | Members | Message 

CopyrightⒸ2020 | BLANKPAGES.IN, All Rights Reserved